For the best experience, open
https://m.doonprimenews.com
on your mobile browser.
Advertisement

अंकिता भंडारी केस में अब लोग कर रहे है न्याय की मांग, सोशल मीडिया पर तेजी से ट्रेंड हो रहा है जस्टिस फॉर अंकिता भंडारी।

23 Sep 2022 | doonprimenews
अंकिता भंडारी केस में अब लोग कर रहे है न्याय की मांग  सोशल मीडिया पर तेजी से ट्रेंड हो रहा है जस्टिस फॉर अंकिता भंडारी।
Advertisement

कल से उत्तराखंड से सरोकार रखने वाले सोशल मीडिया पेजो में अंकिता की लापता होने से संबंधित स्टेटस जा रहे थे। जिसके मुताबिक ऋषिकेश की वनन्त्रा रिसोर्ट में काम करने वाली पौड़ी के डोब श्रीकोट की अंकिता भंडारी बीते 18 सितंबर को रिसोर्ट से रहस्यमय ढंग में लापता हो गई थी।

सोशल मीडिया में मामला वायरल होने के बाद 22 सितंबर के दिन यह मामला राजस्व पुलिस से नागरिक पुलिस को ट्रांसफर कर दिया गया।
19 सितंबर को रिसोर्ट के संचालक पुलकित आर्य ने राजस्व पुलिस को अंकिता की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। राजस्व क्षेत्र गंगा भोगपुर स्थित वनन्त्रा रिसोर्ट में ग्राम श्रीकोट पट्टी नदलस्यू पौड़ी गढ़वाल निवासी अंकिता भंडारी 19 वर्षीय रिसेप्शनिस्ट के रूप में बीते अगस्त के आखिर से काम कर रही थी।

Advertisement

तहरीर के अनुसार अंकिता कुछ समय से मानसिक तनाव में थी। उसके मन को बहलाने के लिए पुलकित और सौरभ उसे 18 सितंबर को दोपहिया वाहन पर ऋषिकेश की ओर ले गए थे, जहाँ से देर शाम को वह सभी रिजॉर्ट में लौट आए थे। इसके बाद वह अपने अपने कमरे में सोने के लिए चले गए। सितंबर की सुबह पता चला कि अंकिता अपने कमरे में नहीं है, जिसके बाद अंकिता की काफी तलाश की गई मगर उसका कुछ पता नहीं चला। अंकिता के पिता से मिली जानकारी के मुताबिक वह गांव भी नहीं पहुंची।

Advertisement

परिवार वालों के पक्ष के अनुसार उन्हें अंकिता की गुमशुदगी की बात सबसे पहले रिजॉर्ट की ओर से पता नहीं चली थी। युवती के मित्र जम्मू निवासी पुष्प ने उसके स्वजन को यह सूचना दी थी। जिसके बाद स्वजन रिसॉर्ट पहुंचे, जहाँ उन्हें रिसोर्ट संचालक और स्टाफ का व्यवहार संदिग्ध लगा। राजस्व पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट होकर अंकिता भंडारी के पिता अन्य स्वजनों के साथ राज्य महिला आयोग से मिले।

Advertisement

राज्य महिला आयोग और पौड़ी जिलाधिकारी के हस्तक्षेप के बाद मामला राजस्व पुलिस से नागरिक पुलिस को ट्रांसफर कर दिया गया। वर्तमान में यह मामला लक्ष्मण झूला थाने को ट्रांसफर किया गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए लक्ष्मणझूला पुलिस ने जल्द ही इस मामले में कार्यवाही करते हुए 24 घंटे के अंदर मुख्य अभियुक्त वनन्त्रा रिसोर्ट के मालिक पुलकित सहित दो अन्य अभियुक्तों को गिरफ्तार कर केस वर्कआउट कर दिया।

Advertisement

इस मामले में हुए अन्य खुलासों के अनुसार पुष्प ने पुलिस तथा मीडिया को उसके साथ हुई अंकिता की बातचीत और व्हाट्सएप चैट की जानकारी दी इस चैटिंग को पढ़कर साफ नजर आ रहा है कि अंकिता के साथ रिजॉर्ट संचालक तथा मैनेजर का व्यवहार सही नहीं था।

अंकिता ने अपने दोस्त को चैट में यह भी बताया था कि उसे रिजॉर्ट में आने वाले एक वीआईपी ग्राहक को खुश करने के लिए एक्स्ट्रा सर्विस देने के लिए दबाव डाला जा रहा था। इतना ही नहीं अंकिता ने अपने साथ हो रही अश्लील हरकत की बात भी अपने दोस्त को बताई थी। पुलिस ने अंकिता की इस चैटिंग के स्क्रीन शॉट भी जांच में शामिल किए हैं।

आरोपी पुलकित आर्या भाजपा पूर्व राज्यमंत्री विनोद आर्य का बेटा है आरोपी पुलकित आर्या का नाम विवादों में तब आया था जब लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश के विवादित नेता अमरमणि त्रिपाठी के साथ उत्तरकाशी में प्रतिबंधित क्षेत्र में पहुँच गए थे।

यमकेश्वर विधायक रेनू बीस्ट का भी इस मामले पर बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र सहित समस्त उत्तराखंड के भाइयों और बहनों, जो अभी हाल ही में घटना घटित हुई है, जिसमें हमारी उत्तराखंड की बेटी के अपहरण का मामला सामने आया है। जब से यह मामला मेरे संज्ञान में आया है तब से मैं धरातल पर इस घटना की पूरी जानकारी ले रही थी। इस संबंध में मैं लड़की के परिजनों से भी मिली और प्रशासन को सख्त से सख्त कदम उठाने के निर्देश भी जारी किए हैं।

यह भी पढ़े – अंकिता भंडारी की हत्या का हुआ खुलसा, जानिए कैसे की गई हत्या।

इस बीच सोशल मीडिया में जस्टिस फॉर अंकिता भंडारी तेजी से ट्रेंड हो रहा है। सुबह से आ रही अपुष्ट खबरों में कहा जा रहा है कि आरोपी ने अंकिता भंडारी की हत्या कर दी है। इस बात की पुष्टि पौड़ी पुलिस ने भी कर दी है कि अभियुक्तों ने अंकिता को एक सुनसान जगह पर ले जाकर उसकी हत्या कर उसके शव को नहर में फेंक दिया। जनपद की एसडीआरएफ, जल पुलिस गोताखोरों एवं पुलिस टीम द्वारा मृतक के शरीर की खोजबीन जारी है।

Advertisement
Advertisement
×